0

अखिलेश ने डिम्पल से क्यों ली कन्नौज लोकसभा की सीट, जाने आप भी

अखिलेश यादव को अजीब गरीब फैसले लेने के लिए जाना जाता है . कभी चुनाव नहीं लड़ना तो कभी लड़ने की घोषणा कर देना सबको हैरान कर देता हैं . कभी बसपा के साथ गठबंधन तो कभी कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लेना. ऐसा ही एक निर्णय अखिलेश ने और लिया है जिससे लोग हैरान हो रहे हैं. वर्ष २००९ में अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों से चुनाव जीता था . बाद में फिरोजाबाद को उन्होंने सीट छोड़ दिया था और वहा से उनकी पत्नी डिम्पल यादव चुनाव हार गई थी . उसके बाद अखिलेश यादव वर्ष २०१२ में मुख्यमंत्री बने कनौज सीट को भी छोड़ दिए यहाँ से उनकी पत्नी डिम्पल यादव ने चुनाव लड़ा और जीत गई . कनौज सीट अखिलेश ने डिम्पल को गिफ्ट कर दिया था जहां से दिम्पल यादव चुनाव जीतने लगी थीं.

नहीं लड़ेंगी डिम्पल यादव चुनाव
जब डिम्पल यादव लगातार चुनाव जीतने लगी थी और राजनीती समझने लगी तो उन्हें क्यों टिकेट नहीं दिया जायेगा. अखिलेश यादव ने बड़ी घोषणा कर दी की डिम्पल यादव लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगीं. डिम्पल ने मोदी लहर में भी जीत फ़तेह की थी.

ऐसा क्यों लिया फैसला
अखिलेश यादव ने ऐसा फैसला क्यों लिया होगा सवाल बड़ा लेकिन जवाब एक ही है की परिवारवाद के होरहे हमले को चलते ऐसा फैसला अखिलेश यादव ने लिया है .

newsairs

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *